सेल्फ हेल्प किताबों की प्रेरणादायक बातें | motivational quotes from self-help books in Hindi

सेल्फ हेल्प किताबों की प्रेरणादायक बातें और कोट्स हिंदी में (inspirational and motivational quotes from self-help books in Hindi)


motivational quotes from self-help books in Hindi

द पावर ऑफ इमोशनल इंटेलिजेंस (The Power of Emotional Intelligence)

इच्छा प्रबल है तो सब हासिल कर सकते है


हो सकता है आप खुद को 90 प्रतिशत भावनात्मक और 10 प्रतिशत तार्किक मानते हों। लेकिन आप पूरी तरह भावनात्मक हैं। विचार के पीछे अगर भावना की शक्ति नहीं है, तो उसमें आपको प्रभावित करने की शक्ति भी नहीं होगी। अगर इच्छा प्रबल है, तो आप उस चीज को अपनी ओर खींच सकते हैं।


सोचिये और अमीर बनिये (Think and Grow Rich)

आत्म-संयम पाना सबसे मुश्किल काम है


अनुशासन आत्म-नियंत्रण के साथ आता है। आपको अपने नकारात्मक गुणों पर नियंत्रण रखना चाहिए। स्थिति को नियंत्रित करने से पहले खुद को नियंत्रित करना बहुत जरूरी है। आत्म-संयम हासिल करना सबसे मुश्किल काम है। लेकिन यदि आप स्वयं को नहीं जीत सकते तो स्वयं के द्वारा जीत लिए जाएंगे।


खराब पहनावा आपकी लापरवाही को दर्शाता है


आपका पहनावा देखकर लोग आपके बारे में अपनी पहली राय कायम करते हैं। अच्छा पहनावा बताता है कि आप खुद की इज्जत करते हैं और फिर दूसरे भी आपकी इज्जत करने पर मजबूर होते हैं। खराब पहनावा लापरवाह होने का संदेश देता है। पहनावा दरअसल ऐसा यंत्र हैं जो आपकी सोच और ऊर्जा दोनों को बूस्ट करता है।


जीतना है तो जिद करो (Jeetna Hai To Jid Karo)

खुला दिमाग रखेंगे तो अवसर को पहचान पाएंगे


जीवन में अवसर बार-बार आते हैं जिन्हें यदि आप पहचान कर उनका लाभ उठा लें तो सफलता की बुलंदियों तक पहुंच सकते हैं। सही अवसर को सही समय पर पकड़ना चुनौतीपूर्ण है। जो लोग अवसर का महत्व नहीं समझते वो साधारण जीवन जीते हैं। जो खुला दिमाग रखते हैं वो अवसर का स्वागत करते हैं।


ब्रेकथू थिंकिंग (Breakthrough Thinking)

रचनात्मक तरीके से हल करें समस्याएं


रिसर्च बताती हैं कि समस्याएं हमारे भीतर के सर्वश्रेष्ठ को बाहर निकालती हैं। वे आपको मजबूत और कारगर बनाती हैं। आप पर दबाव जितना ज्यादा होगा, आप उसके हल को खोजने के लिए उतनी ज्यादा भावनाएं दांव पर लगाएंगे और उतने ज्यादा रचनात्मक बनेंगे। जब आप समस्या को रचनात्मक तरीके से हल करेंगे तो ज्यादा प्रभावी भी बनेंगे।


हाउ टू स्टॉप वरिंग एंड स्टार्ट लिविंग (How to Stop Worrying and Start Living)

जीवन में कभी शॉर्टकट्स ना अपनाएं


जीवन में विकास की क्रमिक अवस्थाएं होती हैं। जैसे, बच्चा पहले पलटना सीखता है, फिर बैठना, फिर घुटनों के बल सरकता है और इसके बाद चलता है। हर पायदान महत्वपूर्ण है और हर पायदान में समय लगता है। किसी पायदान को छोड़ा नहीं जा सकता। यही जीवन के सभी क्षेत्रों में सही है, शॉर्टकट्स अपनाने की ना सोचें।


चिंता मुक्त रहने की योग्यता देगी खुशी


रिसर्च बताती हैं कि किसी भी तरह की चिंता आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम करती है। इससे बीमारियों की आशंका बढ़ जाती है। चिंता से मुक्ति पाने की आपकी योग्यता ही खुशी, सेहत और संतुलित मानसिक नजरिए का शुरुआती बिंदु है, जिसकी जरूरत आपको हर काम में खुशी पाने के लिए होती है।


करेज एंड कॉन्फिडेंस (Courage And Confidence)

साहस से ही मजबूत इरादे बन सकते हैं


साहस वह गुण है जो व्यक्ति को भय का शिकार हुए बिना विपरीत परिस्थितियों का मुकाबला करने योग्य बनाता है। साहस न तो निर्भीकता का नाम है, न ही उदंड व्यवहार का। साहस तो भय का मुकाबला करने का नाम है। साहस अक्लमंदी का वह प्रदर्शन है जिससे यह पता लगता है कि कब एक मजबूत इरादा बनाना है।


द मैजिक ऑफ थिंकिंग बिग (The Magic of Thinking Big)

लाभ पाना चाहते हैं तो बलिदान भी करना होगा


कुछ पाने से पहले कुछ देना ही पड़ता है। लाभ की कीमत पहले चुकानी पड़ती है। आपकी लक्ष्य को हासिल करने की तड़प का अंदाजा इस बात से लगाया जाता है कि आप उसके लिए कितनी कीमत चुकाने के लिए तैयार हैं, कितनी दूरी तय करने के लिए तैयार हैं, कितने बलिदान करने के लिए तैयार हैं।


पावर ऑफ पॉजिटिव थिंकिंग (The Power of Positive Thinking)

अपनी योग्यता पर विश्वास करना ही साहस है

अपनी योग्यता पर विश्वास करना ही साहस है। आपका अपने आप में विश्वास ही आपके सपनों को हकीकत में बदलता है। साहस विपरीत परिस्थितियों का मुकाबला करना सिखाता है। भय से मुकाबला ही साहस है। साहस से ही पता चलता है कि अब एक मजबूत इरादा बनाना है।


इन्फ्लूएंस (Influence)

एक की प्रशंसा से कई प्रोत्साहित होंगे


दूसरों की प्रशंसा पाने में खुशी मिलती है। यदि आप लोगों के कार्य की प्रशंसा करते हैं तो आप उन्हें ज्यादा काम करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। विशिष्ट कार्यों की प्रशंसा करें। लोगों को बताएं कि उन्होंने जो काम किया वो क्यों अच्छा था। एक की प्रशंसा करने से कई लोग प्रोत्साहित होंगे।


मैनेजिंग वनसेल्फ (Managing Oneself)

अपने साथ होने वाली हर बात की जिम्मेदारी लें

आप तभी तक खुद के बारे में अच्छा सोचते हैं जब तक खुद के नियंत्रण में होते हैं। अगर किसी दूसरे को जिम्मेदार बनाते हैं तो उन्हें अपना नियंत्रण सौंपते हैं। आप अब भी खुद के लिए जिम्मेदार हैं, लेकिन नियंत्रण दूसरे को सौंपने से मानसिक शांति खो देते हैं। अपने साथ होने वाली हर चीज का श्रेय और दोष खुद लें।


रोड टू सक्सेस (Road to Success)

सफल होने के लिए असफलता की जरुरी है


जब असफलता का डर बढ़ जाता है तो यह आपकी सफलता और खुशी की राह में बाधा बन सकता है। सफल होना चाहते हैं तो अपनी असफलता की दर दोगुनी कर दें। सफलता, असफलता के दूसरे सिरे पर मौजूद होती है। असफलता, सबक सीखने का एक तरीका है। इसकी जरूरत सफल होने के लिए पड़ती है।

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने